माँ

दुनिया अगर काली है ,

तो मै गोरा कह नही सकता ,

माँ ने दिखाया है जो रास्ता,

वो कभी गलत हो नही सकता ।

सब साथ न थे इस बात का भी मलाल न था ,

क्योकि हाथ एक जो माँ का था ।

One review on “माँ

Leave a Reply